Friday, September 22, 2017

Home

Magzines

Like us on Facebook

मंच ‘… दुश्मन उसका आस्मां क्यों हो!’

गृहमंत्री राजनाथ सिंह के नाम लेखक शम्सुल इस्लाम खुला पत्र अपने पिछले दिनों (दिसंबर 12, 2016) कठुआ, जम्मू में भाषण देते हुए पाकिस्तान को चेतावनी दी कि वह इस...

बड़े-बड़े आंकड़े और उनसे भी बड़े झूठ

आनंद तेलतुम्बड़े ''आंकड़ों को ठोक-पीट कर आप उनसे कुछ भी उगलवा सकते हैं।‘’ - रोनाल्ड कोज यह बात पूरी तरह से शायद कभी भी उजागर न हो कि 86.4 फीसदी करेंसी को...

दुनिया की हार के खिलाफ एक फलसफा देखने का

जॉन बर्जर के महत्त्व पर शिवप्रसाद जोशी ''मैं आपको नहीं बता सकता हूं कि कला क्या करती है और कैसे करती है, लेकिन मैं जानता हूं कि कला ने अक्सर...

हाथी के दांत खाने के और दिखाने के और

सरकार ने गत वर्ष आठ नवंबर को, विमुद्रीकरण या नोटबंदी के नाम पर, जिस आर्थिक संकट को यह कहते हुए देश पर थोपा था कि कि इससे एक महीने...

क्रांति की विरासत

महान अक्टूबर क्रांति का यह सौंवा वर्ष चल रहा है। इस क्रांति ने समतावादी-साम्यवादी विचार को न केवल पहली बार मजबूती के साथ जमीन पर उतारा और पूरी दुनिया...

ब्रह्मांड की रचना और हिग्स बोसॉन यानी कण-कण में विज्ञान

हाल ही में (4 जुलाई) योरोपीय नाभिकीय अनुसंधान केंद्र (सर्न) के वैज्ञानिकों ने घोषणा की कि उन्होंने एक नए सब-एटोमिक कण की खोज में सफलता हासिल कर ली है।...

भारत विभाजन क्यों हुआ?

पैरी एंडर्सन मार्क्‍सवादी अमेरिकी इतिहासकार और चिंतक पैरी एंडरसन ने योरोप और विश्व इतिहास पर महत्वपूर्ण काम किया है। वह 1962 से न्यू लैफ्ट रिव्यू के संपादक हैं। एंडरसन ने...

प्राकृतिक संसाधनों की लूट की परियोजनाएं–1

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने लगता है अपने एजेंडे पर काम करना शुरू कर दिया है। उनके साथ उन लोगों की एक बड़ी जमात जुट गई है जो...

टिहरी बांध : बांध में डूबी जिंदगियां

हम अभी-अभी नई टिहरी से लौटे हैं। आगराखाल से नरेंद्रनगर के बीच उतरती शाम में बादलों के बीच छिप-छिप कर डूबते सूरज की लालिमा भी मन को बांध नहीं पाई।...

संपादकीय : अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता बनाम पैसा कमाने की स्वतंत्रता

इस वर्ष दो ऐसी बड़ी घटनाएं हुई हैं जो देश के मीडिया उद्योग को तेजी से एकाधिकारी और संकेंद्रित करने में निर्णायक साबित होने जा रही हैं।  यह इस...

पत्र : इस आक्रमण की निंदा करें

आज 'झुनझुनवाला और उनके परिवार पर आक्रमण' का स्तब्ध करनेवाला समाचार पढ़ा। इस को पढ़कर मैं स्तब्ध हूं। यह उत्तराखंड के लिए अच्छा संकेत नहीं है। मैं अपने सभी...

संपादकीय : प्रशासन को अंग्रेजी क्यों चाहिए?

दिल्ली उच्च न्यायालय में अगस्त के मध्य में एक जनहित याचिका पर सुनवाई शुरू हुई। याचिका में कहा गया है कि संघीय लोकसेवा आयोग द्वारा सिविल सेवाओं की परीक्षा...

बांध : विकास नहीं विनाश का पर्याय

हिमालय के स्वभाव में समाहित भूस्खलन, बाढ़ और भूकंप के खतरों को पनबिजली परियोजनाओं ने बहुगुणित कर दिया है। उत्तराखंडवासी सोचते थे कि टिहरी बांध के निर्माण, 1991 तथा...

सामान्य गुजरात बनाम मोदी का गुजरात

इस तथ्य से सभी अवगत हैं कि गुजरात प्रदेश प्राचीन समय से ही समृद्ध रहा है। यहां के लोगों का मुख्य व्यवसाय पशु-पालन और वाणिज्य था। इसमें यहां के...

मीडिया और मोदी

हाल ही में दो खबरों ने खूब सुर्खियां बटोरी हैं। पहली, चर्चित अमेरिकी पत्रिका टाइम के कवर पर गुजरात के विवादास्पद मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर और दूसरी दुनियाभर...

मंच ‘… दुश्मन उसका आस्मां क्यों हो!’

गृहमंत्री राजनाथ सिंह के नाम लेखक शम्सुल इस्लाम खुला पत्र अपने पिछले दिनों (दिसंबर 12, 2016) कठुआ, जम्मू में भाषण देते हुए पाकिस्तान को चेतावनी दी कि वह इस...

बड़े-बड़े आंकड़े और उनसे भी बड़े झूठ

आनंद तेलतुम्बड़े ''आंकड़ों को ठोक-पीट कर आप उनसे कुछ भी उगलवा सकते हैं।‘’ - रोनाल्ड कोज यह बात पूरी तरह से शायद कभी भी उजागर न हो कि 86.4 फीसदी करेंसी को...

दुनिया की हार के खिलाफ एक फलसफा देखने का

जॉन बर्जर के महत्त्व पर शिवप्रसाद जोशी ''मैं आपको नहीं बता सकता हूं कि कला क्या करती है और कैसे करती है, लेकिन मैं जानता हूं कि कला ने अक्सर...

हाथी के दांत खाने के और दिखाने के और

सरकार ने गत वर्ष आठ नवंबर को, विमुद्रीकरण या नोटबंदी के नाम पर, जिस आर्थिक संकट को यह कहते हुए देश पर थोपा था कि कि इससे एक महीने...

क्रांति की विरासत

महान अक्टूबर क्रांति का यह सौंवा वर्ष चल रहा है। इस क्रांति ने समतावादी-साम्यवादी विचार को न केवल पहली बार मजबूती के साथ जमीन पर उतारा और पूरी दुनिया...
0FansLike
64,751FollowersFollow
3,756SubscribersSubscribe
- Advertisement -

साक्षात्कार : अचानक आनेवाली बाढ़ें मानव निर्मित अपदायें हैं

अंतराष्ट्रीय ख्याति के भूगर्भ वैज्ञानिक व पर्यावरण विद खडग़ सिंह वल्दिया से अनुपम चक्रवर्ती की बातचीत प्र: हिमालय तथा भारत के अन्य भागों में अचानक...

पत्र : अधिरचना सत्तासीन राजनीति से अनुकूलित होगी ही

'सार्वजनिक साहित्यिक संस्थाओं का राजनैतिक रूपांतरण' (समयांतर : 11 अगस्त, 2012) शीर्षक से सर्वश्री राजेश जोशी, कुमार अम्बुज व नीलेश रघुवंशी का दुख कोई...

मीडिया : कोयले की दलाली से कोयले के व्यापार तक

भारत में कोयला घोटाले ने एक बार फिर तथाकथित लोकतांत्रिक संस्थाओं के चेहरे से नकाब हटाने के काम किया है। एक लाख छियासी हजार...

घटनाक्रम–अक्टूबर 2012

निधन - 30 वर्ष तक द हिंदू के पूर्व संपादक जी. कस्तूरी (17 दिसंबर, 1924-21 सितंबर, 2012) का चेन्नई में निधन। कस्तूरी 1965 से 1991...

ब्रह्मांड की रचना और हिग्स बोसॉन यानी कण-कण में विज्ञान

हाल ही में (4 जुलाई) योरोपीय नाभिकीय अनुसंधान केंद्र (सर्न) के वैज्ञानिकों ने घोषणा की कि उन्होंने एक नए सब-एटोमिक कण की खोज में...

समाज-व्यवस्था :वर्ण व्यवस्था का पायदान

  मैत्रेयी पुष्पा अदृश्य भारत: भाषा सिंह; पेंगुइन बुक्स; मूल्य: 199, पृ.सं.:212 पेपरबैक संस्करण ISBN : 978-0-143-41643-2 हमारे देश की वर्णव्यवस्था का प्रारूप बड़ी चतुराइयों, कुशलताओं और...