घटनाऐं – नवंबर 2013

0
86

राजेन्द्र यादव (28 अगस्त 1929 – 28 अक्टूबर 2013)

rajendra-yadavसुप्रसिद्ध कथाकार, नई कहानी के पुरोधा और हंस के संपादक राजेन्द्र यादव का दिल्ली में निधन। यादव जी नई कहानी आंदोलन के संस्थापकों में से थे। यह आंदोलन भारतीय समाज में मध्यवर्ग के उदय को रेखांकित करता है।

राजेन्द्र जी का पहला संग्रह देवताओं की मूर्तियां 1951 में प्रकाशित हुआ था। उसके बाद उनके कई संग्रह जहां लक्ष्मी कैद है, छोटे छोटे ताजमहल, टूटना और अन्य कहानियां आदि प्रकाशित हुए। उनके उपन्यासों में सारा आकाश, उखड़े हुए लोग, शह और मात तथा मंत्रबिद्ध थे। यादव जी का अधिकांश रचनात्मक लेखन सातवें दशक तक हो चुका था।

सन 1986 में उन्होंने कहानी की पत्रिका हंस की स्थापना की जिसने हिंदी कहानी की दिशा बदल दी और दलित व नारीवादी विमर्श को मुख्यधारा में स्थापित कर दिया।

समयांतर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता है।

घटनाक्रम

निधन

– सुप्रसिद्ध मराठी नाटककार और राजनीतिक टिप्पणीकार गोविंद पुरुषोत्तम देशपांडे (2 अगस्त, 1938 – 16 अक्टूबर, 2013) का पुणे में निधन। उन के प्रसिद्ध नाटक हैं उध्वस्थ धर्मशाला, एक वज़ून गेला आहे, चाणक्य विष्णु गुप्त और अंधार यात्रा आदि। उन्हें संगीत नाटक अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वह लगभग तीन दशक तक प्रसिद्ध अंग्रेजी पत्रिका ईपीडब्लू में ‘आफ लाइफ लैटर्स एंड पॉलिटिक्स’ स्तंभ लिखते रहे थे।

– प्रसिद्ध रंगमंच निर्देशक और चित्रकार विक्को सोनी का 27 अक्टूबर को दिल्ली में निधन। वह 76 वर्ष के थे और पिछले कई वर्षों से पार्किंसंस की बीमारी से पीडि़त थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here