मीडिया

मीडिया : नया जमाना,नया खेल

प्रसार भारती जिसे सभी सरकारों ने दुहा

लेखक : अटल तिवारी   पिछले पांच महीनों में दूरदर्शन अपनी कार्यप्रणाली को लेकर दो बार सवालों के घेरे में आ चुका है। पहली घटना लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार ‘अब प्रधानमंत्री’ नरेंद्र मोदी का साक्षात्कार संपादित करने को लेकर थी तो ताजा विवाद राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के [Read the Rest…]

ट्राई की कोशिशः पर सिफारिशें मानेगा कौन

लेखक : अटल तिवारी नयामक आयोग की ओर से न्यूज मीडिया क्षेत्र में कॉरपोरेट घरानों एवं राजनीतिक निकायों के प्रवेश पर पाबंदी लगाने समेत अनेक सिफ ारिशें करना स्वागत योग्य कदम है। यह बात अलग है कि आयोग की मीडिया स्वामित्व पर आई रिपोर्ट और सिफ ारिशों को मुख्यधारा का मीडिया पूरी तरह खारिज करने [Read the Rest…]

अब अंबानी का मीडिया

मीडिया लेखक : अटल तिवारी    भारतीय पत्रकारिता में वर्ष 2014 हमेशा याद किया जाएगा। इसे याद करने के दो प्रमुख कारण हैं। पहला, लोकसभा चुनाव में मुख्यधारा के अधिकांश मीडिया द्वारा गुजरात के मुख्यमंत्री और भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी (अब प्रधानमंत्री) के पक्ष में माहौल बनाने के लिए और दूसरा, [Read the Rest…]

विझापनों का राजनीतिकरण

लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान जारी उपभोक्ता विझापनों पर शालिनी जोशी की एक  टिप्पणी हीरो के नए विज्ञापन में दो दोस्त मोटर साइकिल से जा रहे हैं। एक लड़की का पोस्टर दिखाते हुए पहला दोस्त दूसरे से कहता है, ‘इस बार टैलेंट शो में यही जीतेगी’ ‘क्यों?’ ‘क्योंकि यह हमारी तरफ की है’ ‘हमारी तरफ [Read the Rest…]

Page 1 of 612345...Last »