No Image

‘मत चूके चौहान’

June 8, 2020 admin 0

मुजफ्फरपुर, बिहार से यह समाचार मुख्यधारा के मीडिया में दो दिन बाद 27 मई को पहुंच पाया था। घटना 25 मई अपरान्ह के बाद की है। अपने प्राइम टाइम बुलेटिन में एनडीटीवी ने एक क्लिपिंग दिखलाई जिसमें मुश्किल से दो साल का एक बच्चा प्लेटफार्म पर लेटी अपनी मां के ऊपर पड़ी चादर से खेल रहा है। बच्चा इस बात से अनभिज्ञ है कि मां नहीं रही है। वैसे भी इतने छोटे बच्चे से कैसे उम्मीद की जा सकती है कि वह जाने कि मौत जिंदगी के कितने समानांतर चलती है? विशेष कर गरीबों के लिए।

No Image

प्रकाशक जो मेरा लेखक था

May 5, 2020 admin 0

मेरे लिए आश्चर्य था कि श्याम बिहारी राय (1934-10 मार्च 2020) ने हिंदी में पीएचडी की हुई थी और साहित्य की समझ में वह किसी से उन्नीस नहीं थे फिर भी उन्हें शैक्षणिक काम क्यों नहीं मिला होगा! आज कह सकता हूं कि ऐसा क्यों हुआ होगा। साहित्य और संस्कृति पर पंकज बिष्ट