No Image

उन्होंने चुनौती स्वीकारी

June 21, 2021 admin 0
Share:

अगर उनके निजी जीवन को देखें तो कहना गलत नहीं होगा कि शीला संधु सही अर्थों में चुनौती का दूसरा नाम थीं। हिंदी प्रकाशन व्यवसाय को राजकमल प्रकाशन के माध्यम से चरम पर पहुंचानेवाली शीला संधु (24 मई 1924 – 01 मई 2021) का स्मरण ।

No Image

क्या स्वास्थ्य हमारे लिए अब भी प्राथमिकता नहीं है?

June 15, 2021 admin 0
Share:

स्वास्थ्य विशेषज्ञ बहुत पहले से हमारे तबाहहाल स्वास्थ्य ढांचे के प्रति चेतावनी देते आ रहे हैं, लेकिन उनकी सबसे निराशाजनक भविष्यवाणियों में भी इतनी बदतर हालत की कल्पना नहीं की गई थी। इसने हमारे शासकों की हद दर्जे की संवेदनहीनता और खुदगर्जी को तो बेनकाब कर ही दिया है, साथ ही समस्या को कमतर आंकने वाली उनकी शुतुरमुर्गी दृष्टि और खोखले अहंकार को भी चकनाचूर किया है।

No Image

किसानों ने आंदोलन की नई जमीन तैयार कर दी

June 11, 2021 admin 0
Share:

किसान आंदोलन के छह महीने बाद जब आप सिंघु या टिकरी जाएंगे तो देखेंगे कि दिल्ली से खुलने वाले हाइ-वे कायदे से गांव बन गए हैं। हजारों ट्रॉलियों और झोपडिय़ों के बीच टहलते किसान जब्र का जवाब अपने सब्र से दे रहे हैं। यह आंदोलन पसरकर एक विश्वविद्यालय हो गया है, जिसमें कई लाख रहवासी हैं।

No Image

मानव विरोधी अवैज्ञानिकता

June 7, 2021 admin 0
Share:

यह देखना, इस दौर में, आशाजनक और आश्वस्तकर है कि अंतत: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (भारतीय चिकित्सा संगठन) ने आधुनिक चिकित्साशास्त्र बल्कि कहना चाहिए तार्किकता और […]

No Image

महामारी का विस्फोट

May 25, 2021 admin 0
Share:

महामारी विज्ञान के सारे विशेषज्ञ कह रहे हैं कि अभी कोरोना के इस दूसरी लहर का सबसे बदत्तर रूप आना बाकी है।  अनुमान है कि इस लहर का सबसे बदत्तर रूप इस माह के मध्य  तक आ सकता है, जब प्रतिदिन कम-से-कम पांच से छह लाख लोग कोरोना के शिकार हो सकते हैं। इसकी पुष्टि इस तथ्य से भी होती है कि कोरोना से घोषित तौर पर संक्रमित लोगों की संख्या में प्रतिदिन हजारों की संख्या में नहीं बल्कि लाखों की संख्या में वृद्धि हो रही है, जबकि जांच की रफ्तार महामारी के फैलाव की तुलना में काफी धीमी है, दस दिनों के भीतर(18 से 27 अप्रैल) कोरोना संक्रमित घोषित लोगों की संख्या 19,29,329 से बढ़कर 29,78,709 हो गई है यानी दस दिन में 10 लाख से अधिक की वृद्धि।

No Image

शव वाहिनी गंगा

May 17, 2021 admin 0
Share:

(हिंदी ) शव वाहिनी गंगा – पारुल खख्खर एक आवाज में मुर्दे बोलें सब कुछ ‘चंगा चंगा’, राजा, तुम्हारे रामराज्य में शव वाहिनी गंगा,   […]